कोरोना के बीच चीन में आया नया जानलेवा 'हंता' वायरस, एक की मौत

March 24, 2020
कोरोना के बीच चीन में आया नया जानलेवा 'हंता' वायरस, एक की मौत
चीन अभी पूरी तरह से कोरोना वायरस की चपेट से बाहर नहीं निकल पाया है कि एक नए वायरस के फैलने की खबरें आ रही है। चीनी सरकारी मीडिया संस्थान ग्लोबल टाइम्स के अनुसार, चीन के ग्रीस प्रांत में एक नया वायरस फैल गया है। इसके कारण एक व्यक्ति की मौत हो गई है। इसका नाम हंतावायरस है।

ग्लोबल टाइम्स के अनुसार, हंता वायरस से पीड़ित व्यक्ति बस से शेडोंग लौट रहा था। तब कोरोना की जांच के दौरान वायरस का पता चला था। इस बस में कुल 32 लोग सवार थे। सभी यात्रियों की जांच की गई। जब से चीन ने यह जानकारी साझा की है। जिसके बाद से सोशल मीडिया पर हंगामा मचा हुआ है।

यूएस सेंटर फॉर डिसीज एंड कंट्रोल के अनुसार, हंता वायरस चूहों के मल, मूत्र और थूक में पाया जाता है। यह मनुष्यों को तब संक्रमित करता है जब चूहे इसे हवा में छोड़ते हैं। हंता वायरस सांस के जरिए शरीर में प्रवेश करता है।

इसके शुरुआती लक्षणों में इंसान को ठंड लगती है और बुखार होता है। इसके बाद, मांसपेशियों में दर्द शुरू होता है। सूखी खांसी एक से दो दिनों के बाद आती है। सिर दर्द होता है। उल्टी होती है। सांस लेने में कठिनाई होती है।

यह ज्यादातर चीन के ग्रामीण इलाकों में हुआ है। इसके कारण, कई पर्वतारोहियों और शिविर लगाने वाले पर्यटकों को परेशानी हुई। हालांकि, यह कोरोना वायरस जितना घातक नहीं है।

अब चीन में, बड़ी संख्या में लोग ट्वीट कर रहे हैं और डर रहे हैं कि यह कोरोना वायरस की तरह एक महामारी बन सकता है। लोग कह रहे हैं कि अगर चीन के लोग जानवरों को जिंदा खाना बंद नहीं करेंगे तो ऐसा ही होता रहेगा।

चीन में, जानवरों को खाने की परंपरा है। लोग चूहे भी खाते हैं। ऐसी स्थिति में, इस बीमारी की संभावना निरंतर बनी हुई है। यह एक चूहे या गिलहरी के संपर्क में आने से मनुष्यों में फैलती है।

हंता वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में नहीं जाता है, लेकिन यदि कोई व्यक्ति चूहों की मल, मूत्र आदि को छूने के बाद अपनी आंखों, नाक और मुंह को छूता है, तो हंता वायरस से संक्रमित होने का खतरा बढ़ जाता है।

सीडीसी के अनुसार, वायरस जानलेवा है। चीन में लाफिंग वायरस का मामला ऐसे समय में आया है जब पूरी दुनिया वुहान से उत्पन्न कोरोना वायरस की महामारी से जूझ रही है। कोरोना वायरस अब तक पूरी दुनिया में फैल चुका है।